बदलता ये पल कल जाने हम कहाँ – Hindi Shayari

185

बन के तस्वीर इस दिल में बसा करना जब चाहूँ तुम्हे देखूँ आँखो में रहा करना,
तुम्ही मेरी जिंदगी हो तुम्ही मेरे अरमान पल-२
बदलता ये पल कल जाने हम कहाँ हो,
मिल जाये हम शायद कभी ये दुआ करना मिल के जो बिछड़ जाये इसमें क्या कसूर अपना ,
तुम चाहे जिस हल में हो बस ख्याल रखना जरूर अपना .

Download Image

 Please wait while your url is generating... 3