मुस्कुराते रहिये ताकि सरकार भी कन्फ्यूज़्ड रहे कि

मुस्कुराते रहिये ताकि सरकार भी कन्फ्यूज़्ड रहे कि
.
.
.”साला”
.
.
.अब कौन सा टैक्स लगाना बाक़ी रह गया है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *