सड़क कितनी भी साफ हो “धूल” तो हो ही जाती है

सड़क कितनी भी साफ हो “धूल” तो हो ही जाती है,*
*इंसान कितना भी अच्छा हो “भूल” तो हो ही जाती*
*”मैं अपनी ‘ज़िंदगी’ मे हर किसी को*अहमियत’ देता हूँ…क्योंकि
जो ‘अच्छे’ होंगे वो ‘साथ’ देंगे…
और जो ‘बुरे’ होंगे वो ‘सबक’ देंगे…!!
*जिंदगी जीने के लिए सबक और साथ दोनों जरुरी होता है।*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *