दर्द कितना है बता नहीं सकते

183

“दर्द कितना है बता नहीं सकते;
ज़ख़्म कितने हैं दिखा नहीं सकते;
आँखों से समझ सको तो समझ लो;
आँसू गिरे हैं कितने गिना नहीं सकते।

Download Image

 Please wait while your url is generating... 3